74 वर्षीय महिला ने तोड़ा राजिंदर कौर का यह रिकॉर्ड

74 वर्षीय महिला ने तोड़ा राजिंदर कौर का यह रिकॉर्ड



गुंटूर। आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले की मंगायम्मा ने  74 वर्ष की उम्र में  जुड़वा बच्चे को जन्म दिया है  मंगा यम्मा का बीते एक दशक से ईलाज चल रहा था। सालभर पहलेवेगुंटूर की आईवीएफ एक्सपर्ट डॉ.सनक्कायला उमाशंकर से मिलीं। डॉक्टरों ने उनकी माइनर सर्जरी की और अन्य महिला का यूट्रस उनके शरीर में ट्रांसप्लांट किया। जनवरी में सफलता मिली। मंगायम्मा के गर्भवती होने की पुष्टि हुई।
मंगायम्मा 74 साल की उम्र में भी स्वस्थ हैं। उन्हें न तो डायबिटीज है और न ही हाई बीपी की समस्या। उनकी फिटनेस के कारण ट्रीटमेंट आसानी से हो गया। ट्रीटमेंट के दौरान दंपति को मानसिक रूप से शांत रखने के लिए कई बार काउंसलिंग भी की गई।


आईवीएफ एक्सपर्ट डॉ. उमाशंकर के मुताबिक, बच्चियांऔर मां दोनों स्वस्थ हैं। बच्चियों का वजन 1.8 किलो है। मंगायम्मा बच्चों को स्तनपान कराने में असमर्थ हैं इसलिए मिल्क बैंक की मदद से बच्चियों की फीडिंग कराई जाएगी। 


मंगायम्मा के  74 वर्ष की आयु में मां बनना एक हैरानी  का विषय बन गया है। आमतौर पर कहा जाता है कि  इस उम्र में मासिक स्राव बंद हो जाता है जिससे महिलाएं मातृत्व  ग्रहण नहीं कर सकती ।इससे पहले, अधिक उम्र में मां बनने का रिकॉर्ड राजस्थान की दलजिंदर कौर के नाम था जिन्होंने 70 साल की उम्र में 19 अप्रैल 2016 को एक बच्चे को जन्म दिया था। इसप्रकार दलजिंदर कौर का 2016 का रिकॉर्ड मंगायम्मा ने 2019 में तोड़ दिया है।


Popular posts