पीओके में बन रहे वन बेल्ट वन रोड प्रोजेक्ट पर भारत ने जताया ऐतराज, योजना  बंद करेंं

पीओके में बन रहे वन बेल्ट वन रोड प्रोजेक्ट पर भारत ने जताया ऐतराज, योजना  बंद करेंं



नई दिल्ली। भारत द्वारा जम्मू एवं कश्मीर राज्य में  धारा 370 और 35ए को समाप्त किए जाने के उपरांत से ही पाकिस्तान बौखला हुआ है दरअसल में उसके सरपरस्त  आतंकवादियों अब भारत में खुला खेल खेलने का मौका नहीं मिल पा रहा है  यह एक बड़ा कारण है कि पाकिस्तान  कश्मीर  के मामले में  टांग अड़ा रहा है ।
भारत ने कश्मीर पर पाकिस्तान और चीन के साझा बयान की निंदा की है। दरअसल, एक दिन पहले ही चीन के विदेश मंत्री वांग यी पाक दौरे पर थे। उन्होंने कश्मीर पर भारत की कार्रवाई को एकतरफा बताया। साथ ही इस मामले को बातचीत के जरिए सुलझाने पर जोर दिया। इस पर मंगलवार को भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा कि हम कश्मीर पर दोनों देशों के बयान को नकारते हैं। जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। पाक और चीन पीओके में चल रहे वन बेल्ट वन रोड प्रोजेक्ट को बंद करें।
विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया कि भारत लगातार चीन और पाक द्वारा पीओके में चलाए जा रहे 'चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर' (सीपैक) का विरोध करता रहा है। क्योंकि यह प्रोजेक्ट भारत के उस इलाके में चलाया जा रहा है जिस पर पाक ने 1947 से ही अवैध रूप से कब्जा कर रखा है। भारत पाक के कब्जे वाले कश्मीर की यथास्थिति बदलने की किसी भी अन्य देश की कोशिशों का विरोध करता है। हम इस प्रोजेक्ट से जुड़े सभी पक्षों से तुरंत कार्रवाई बंद करने की मांग करते हैं।
हालांकि पाकिस्तान कश्मीर मामले को विभिन्न मंचों पर लगातार उठा रहा है लेकिन उसे अभी तक कहीं सफलता नहीं मिली है तो दूसरी तरफ भारत को मुस्लिम देशों ने भी कश्मीर मुद्दे पर काफी सराहा और सहारा दिया है।


Popular posts